समाज कल्याण प्रशासन की विशेषताएं - Characteristics of Social Welfare Administration - समाज कार्य शिक्षा

समाज कार्य शिक्षा

Post Top Ad

Post Top Ad

Saturday, 12 September 2020

समाज कल्याण प्रशासन की विशेषताएं - Characteristics of Social Welfare Administration


 समाज कल्याण प्रशासन की विशेषताएं


समाज कल्याण प्रशासन विज्ञान तथा कला दोनों है। एक विज्ञान के रूप में इसमें क्रमबद्ध ज्ञान (Systematic knowledge) होता है। जिसका उपयोग सेवाओं को अधिक प्रभावी बना देता है। विज्ञान के रूप में इसके प्रमुख तत्व है- नियोजन, संगठन, कर्मियों की भर्ती, निर्देशन, समन्वय, प्रतिवेदन, बजट तथा मूल्यांकन (POSDCORB)। कला के रूप में समाज कल्याण प्रशासन में अनेक निपुणताओं तथा प्रविधियों का उपयोग होता है जिसके परिणाम स्वरूप उपयुक्त सेवाओं को प्रदान करना होता है। 

समाज कल्याण प्रशासन की प्रमुख विशेषताएँ निम्नलिखित है - 


1. समाज कल्याण प्रशासन कार्यों को पूरा करने के लिए की जाने वाली एक प्रक्रिया है। समाज कल्याण प्रशासन में स्वास्थ्य, शिक्षा, आवागमन, आवास, स्वच्छता, चिकित्सा आदि सेवाओं को प्रभावी बनाया जाता है।


2. समाज कल्याण प्रशासन की संरचना में एक उच्च-निम्न स्तर की संस्मरणात्मक (Hirarchy) व्यवस्था होती है। कर्मचारियों की स्थिति के अनुसार उनके कार्य तथा शक्तियां निर्धारित होती हैं।


3. नेतृत्व, निर्णय करने की क्षमता शक्ति संचार आदि प्रशासकीय प्रक्रिया के प्रमुख अंग हैं। समाज कल्याण प्रशासन मूल रूप से निम्न क्रियाओं से सम्बंधित है -

१. राज्य के सामाजिक लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए ऐसी नीति निर्धारित करना, जिससे संगठन में कार्यरत जनशक्ति एकीकृत रूप से कार्य कर सके।


२. सेवाओं के प्रभावपूर्ण क्रियान्वयन के लिए संगठनात्मक संरचना की रूपरेखा तैयार करना।


३. संसाधन, कर्मचारीगण तथा आवश्यक प्रविधियों का प्रबंध करना।


४. आवश्यक ज्ञान एवं निपुणताओं से युक्त मानव संसाधन का प्रबंध करना। 


५. जन क्रियाकलापों को संपादित करवाना, जिनसे अधिकतम संतोषजनक ढंग से लक्ष्य की प्राप्ति हो सके।


६. ऐसा वातावरण तैयार करना, जहाँ आपसी मेल-मिलाप तथा प्रगाढता बढ़े एवं कर्मचारी कार्य करने की प्रक्रिया के दौरान सुख अनुभव करें। 


७. किए जाने वाले कार्यों का निरन्तर मूल्यांकन करना।



No comments:

Post a comment

Post Top Ad